आने वाली बोर्ड परीक्षाओं को पारदर्शी व नकल विहीन कराना हमारी पहली प्राथमिकता- डीएम रंजना राजगुरू #BoardExams2021 #boardexams

सबसे बडा परीक्षा केन्द्र राजकीय कन्या इण्टर कालेज काशीपुर है जिसमें 1117 परीक्षार्थी परीक्षा देगें

रूद्रपुर (एस के श्रीवास्तव ) । माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तराखण्ड की आगामी बोर्ड परीक्षाओं के सफल संचालन के लिए कलक्टेªट सभागार में जिलाधिकारी रंजना राजगुरू ने जनपद के उप जिलाधिकारियों के साथ वीडियों कान्फे्रन्सिंग के माध्यम से बैठक की। जिलाधिकारी रंजना ने निर्देश देते हुये कहा की पारदर्शी व नकल विहीन परीक्षा कराना हमारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिये। उन्होंने कहा परीक्षा को देखते हुये सभी परीक्षा केन्द्रो में पेयजल व विद्युत व्यवस्था सुचारू कर ली जाए। साथ ही संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों पर उप-जिलाधिकारी अपनी नजर बनाए रखेगें। जिलाधिकरी ने कहा कि परीक्षाओं के लिए केन्द्रों पर जो भी व्यवस्थाएं की जानी हैं, वे सभी कोविड-19 संक्रमण को ध्यान में रखते हुये पहले से ही कर ली जाएं।

जनपद का सबसे छोटा परीक्षा केन्द्र राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तीरथ व राजकीय कन्या इण्टर कालेज बाबरखेडा है जिसमे 75-75 परीक्षार्थी परीक्षा देगें।

मुख्य शिक्षा अधिकारी आरसी आर्या ने बताया कि इस वर्ष माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तराखण्ड की बोर्ड परीक्षाओ में हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट के 42954 छात्र-छात्राएं सम्मिलित होगें। हाईस्कूल परीक्षा में 12587 बालक संस्थागत, 11914 बालिका संस्थागत, 293 बालक व्यक्तिगत, 163 बालिका व्यक्तिगत कुल 24957 बालक/बालिका परीक्षा में प्रतिभाग करेगें। उन्होंने बताया इण्टरमीडिएट परीक्षा में 8127 बालक संस्थागत, 9131 बालिका संस्थागत, 365 बालक व्यक्तिगत व 372 बालिका व्यक्तिगत कुल 17997 बालक/बालिकाएं परीक्षा में प्रतिभाग करेगें। मुख्य शिक्षा अधिकारी आरसी आर्या ने बताया कि शान्तिपूर्ण परीक्षाएं सम्पन्न कराने के लिए जनपद में 105 परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं। जिसमंे 93 मिश्रित परीक्षा केन्द्र व 12 एकल परीक्षा केन्द्र है। जनपद में 22 परीक्षा केन्द्र संवेदनशील है। सबसे बडा परीक्षा केन्द्र राजकीय कन्या इण्टर कालेज काशीपुर है जिसमें 1117 परीक्षार्थी परीक्षा देगें। जनपद का सबसे छोटा परीक्षा केन्द्र राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तीरथ व राजकीय कन्या इण्टर कालेज बाबरखेडा है जिसमे 75-75 परीक्षार्थी परीक्षा देगें।

इस अवसर पर ओसी नरेश चन्द्र दुर्गापाल, प्रशिक्षु आईएएस जयकिशन, तहसीलदार डा0 अमृता शर्मा, बोर्ड परीक्षा प्रशासनिक अधिकारी संजय टम्टा, प्रधानाचार्य एएनझा केके शर्मा, प्रधानाचार्य श्री गुरूनानक इ.का. रानी चन्द्रा सहित वीसी के माध्यम से एसडीएम व तहसीलदार उपस्थित थे।

खबर को शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या आपने यह ख़बर पढ़ी

error: Content is protected !!