ऋषिकेश एम्स की सराहनीय पहल। शुरू की टेलीमेडिसिन सेवा ‘गरुड़’। मुख्य तीरथ सिंह रावत ने किया उद्घाटन।

कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में पूरा देश एक साथ खड़ा हो गया है। सरकार द्वारा कोरोना पर विजय पाने के लिए तमाम प्रयास किये जा रहे हैं। विभिन्न सामाजिक संगठन, जानी-मानी हस्तियां, धार्मिक संगठन से लेकर आम आदमी तक अपना जो सहयोग बन पड़ रहा है वह इस महामारी में दे रहा है। इसी दिशा में ऋषिकेश एम्स द्वारा टेलीमेडिसिन सेवा शुरू की गयी है जिसका नाम ‘गरूड़’ रखा गया है। इस टेलिमेडिसन सेवा ने प्रदेश के लोगों को आॅनलाइन चिकित्सीय परामर्श मिल सकेगा।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने ऋषिकेश पहुंचकर एम्स द्वारा शुरू की गई टेलीमेडिसिन सेवा ‘गरुड़’ का उद्घाटन किया। इस टेलीमेडिसिन सेवा के जरिये प्रदेश की सभी 110 तहसीलों में देशभर के 898 प्रशिक्षित मेडिकल और पैरामेडिकल छात्रों द्वारा मेडिकल संबंधी जानकारी और परामर्श दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मेडिकल और पैरामेडिकल के नौजवानों द्वारा एम्स, ऋषिकेश में की गई यह पहल सराहनीय है।

सरकार लगातार प्रयासरत है कि ज्यादा से ज्यादा डॉक्टरों की तैनाती की जाए। उन्होंने कोविड संक्रमण के मद्देनजर सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि हर ब्लॉक स्तर तक कंट्रोल रूम बनाए जाएं। साथ ही कहा कि सरकार लगातार प्रयास कर रही है कि तीसरी लहर के आने से पहले ही जरूरी तैयारी पूरी कर ली जाए। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चन्द अग्रवाल, ऋषिकेश की महापौर अनिता ममगाईं एवं एम्स, ऋषिकेश के वरिष्ठ चिकित्सक मौजूद रहे।

खबर को शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या आपने यह ख़बर पढ़ी