(फायदेमंद खबर) पीएम विश्वकर्मा योजना के भरिये ऑनलाइन फॉर्म और लीजिये ढेर सारे फायदे ही फायदे, जानिए सब कुछ

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना (पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान भी कहलाता है) के तहत चार वर्ष की अवधि के लिए तीन लाख रुपये तक का कोलैटरल-फ्री लोन मिलता है, जिसकी ब्याज दरें प्रति वर्ष 5% हैं। यह योजना MoMSME (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय) द्वारा शुरू की गई है और 18 पारंपरिक कार्यों को शामिल करती है। कारीगरों और शिल्पकारों को इस योजना से लोन, स्किल ट्रेनिंग, मार्केट लिंकेज सपोर्ट और डिजिटल ट्रांजैक्शन पर इंसेंटिव मिलते हैं। पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत आवेदन के वेरिफिकेशन और अप्रूवल के बाद, आवेदकों को विश्वकर्मा के रूप में रजिस्टर किया जाएगा।

विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना या विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है। इस योजना के लिए 13,000 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत आने वाले कारीगरों, शिल्पकारों आदि को पीएम विश्वकर्मा सर्टिफिकेट और आईडी कार्ड प्रदान किया जाएगा। इसके लिए रजिस्ट्रेशन फ्री है। इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करने वाले लोगों को न सिर्फ ट्रेनिंग दी जाएगी, बल्कि वे कम ब्याज दर पर लोन भी ले सकेंगे। ट्रेनिंग खत्म होने पर औजार खरीदने के लिए 15 हजार रुपये भी दिए जाएंगे। इसके अलावा, 5 फीसदी के ब्याज पर पहले 1 लाख रुपये मिलेगा, फिर जरूरत पड़ने पर दूसरी किस्त में दो लाख रुपये का लोन दिया जाएगा।

आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए https://pmvishwakarma.gov.in साइट पर जा सकते हैं या राज्य सरकारों की वेबसाइटों पर जा सकते हैं।जानते हैं PM Vishwakarma Yojana क्या है, कौन इस योजना के लिए पात्र हैं, आवेदन के लिए किन डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी, अप्लाई करने की प्रक्रिया क्या है, लोन पर ब्याज दर क्या है, कैसे पीएम विश्वकर्मा योजना स्टेटस को चेक कर सकते हैं?

PMV योजना की ब्याज दर 5% प्रति वर्ष है। साथ ही ब्याज पर 8% की सब्सिडी भी प्रदान की जाएगी, जिसका एडवांस भुगतान MoMSME द्वारा बैंकों को किया जाएगा।

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ऐसे करें? 

स्टेप-1: सबसे पहले पीएम विश्वकर्मा योजना के लिए आधिकारिक वेबसाइट https://pmvishwakarma.gov.in पर जाएं।


स्टेप-2: फिर ओटीपी ऑथेंटिकेशन के माध्यम से अपना मोबाइल नंबर और आधार कार्ड सत्यापित करें। यहाँ आपको फिंगरप्रिंट डिवाइस की जरुरत पड़ेगी । इसलिए ध्यान रखें कि कारीगर और शिल्पकार अपने निकटतम कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर विजिट कर पीएम विश्वकर्मा योजना के लिए पंजीकरण और आवेदन कर सकते हैं।


स्टेप-3: सत्यापन की प्रक्रिया के बाद के रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना होगा। जिसमें नाम, पता और व्यापार से संबंधित जानकारी आदि दर्ज करना होगा। इसके बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म को जमा कर दें।

स्टेप-4: फिर डिजिटल आईडी आपको मिल जाएगी।


स्टेप-5: इसके बाद क्रेडेंशियल का उपयोग करते हुए PM Vishwakarma Yojana Portal पर लॉगइन करें। आप चाहें, तो पोर्टल पर अलग-अलग योजना कंपोनेंट्स के लिए आवेदन कर सकते हैं।


स्टेप-6: इसके बाद आवेदन पत्र को विचारार्थ जमा करना होगा।


स्टेप-7: अब आपके प्राप्त आवेदन का अधिकारी सत्यापन करेंगे। सत्यापन की प्रकिया पूरी होने के बाद आपकी ट्रेनिंग होगी।

PMV योजना के लिए भारत का नागरिक होना आवश्यक है। आवेदक 18 वर्ष से अधिक या 50 वर्ष से कम होना चाहिए। सरकारी कर्मचारी इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का लाभ निम्नलिखित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को मिल सकता है:

राजमिस्त्री, नाई, मालाकार, धोबी, दर्जी, ताला बनाने वाले, बढ़ई, लोहार, सुनार, अस्त्रकार, मूर्तिकार, पत्थर
राशने वाले, पत्थर तोड़ने वाले, मोची/जूता बनाने वाला कारीगर, नाव निर्माता, टोकरी/चटाई/झाड़ू बनाने वाला, गुड़िया और खिलौना निर्माता, हथौड़ा और टूलकिट निर्माता, फिशिंग नेट निर्माता

  • पीएम विश्वकर्मा योजना 2024 के लाभ
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का मुख्य उद्देश्य कारीगरों को कौशल और वित्तीय मदद प्रदान करना है।
  • इसमें तहसील या जिला मुख्यालय पर स्थित लघु और मध्यम उद्यम विभाग प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाए जाएंगे।
  • योजना के तहत ट्रेनिंग पाने वाले कारीगरों को वित्तीय सहायता प्रदान करने का प्रावधान है।
  • इस योजना के तहत लोगों को 500 रुपये का दैनिक भत्ता देने का प्रावधान है। साथ ही, 5 दिनों तक कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • टूलकिट प्रोत्साहन के रूप में 15,000 रुपये का अनुदान देने की सुविधा है।
खबर को शेयर करें ...

Related Posts

(उपराष्ट्रपति भ्रमण) जनपद नैनीताल में ये रहेगा डायवर्जन प्लान, घर से निकलने से पहले जान लें

उपराष्ट्रपति भारत सरकार के जनपद नैनीताल भ्रमण के दौरान डायवर्जन…

खबर को शेयर करें ...

शहद उत्पादन के क्षेत्र में पंत विश्वविद्यालय निभाए लीड भूमिका- राज्यपाल। 31 मई को यहां होगा ‘हनी उत्सव’ का आयोजन

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा है…

खबर को शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या ये आपने पढ़ा?

(उपराष्ट्रपति भ्रमण) जनपद नैनीताल में ये रहेगा डायवर्जन प्लान, घर से निकलने से पहले जान लें

(उपराष्ट्रपति भ्रमण) जनपद नैनीताल में ये रहेगा डायवर्जन प्लान, घर से निकलने से पहले जान लें

शहद उत्पादन के क्षेत्र में पंत विश्वविद्यालय निभाए लीड भूमिका- राज्यपाल। 31 मई को यहां होगा ‘हनी उत्सव’ का आयोजन

शहद उत्पादन के क्षेत्र में पंत विश्वविद्यालय निभाए लीड भूमिका- राज्यपाल। 31 मई को यहां होगा ‘हनी उत्सव’ का आयोजन

ट्रेन में हुई महिला को प्रसव पीड़ा, रेलवे सुरक्षा बल ने ऐसे की मदद, महिला ने दिया बच्चे को जन्म

ट्रेन में हुई महिला को प्रसव पीड़ा, रेलवे सुरक्षा बल ने ऐसे की मदद, महिला ने दिया बच्चे को जन्म

(दु:खद) देघाट चचरोटी के पास सेंट्रो कार गिरी गहरी खाई में, रात भर चला सर्च अभियान

(दु:खद) देघाट चचरोटी के पास सेंट्रो कार गिरी गहरी खाई में, रात भर चला सर्च अभियान

(ट्रेन कैंसिल तारीख) टनकपुर-बरेली जं0 विशेष गाड़ी और पीलीभीत- टनकपुर- पीलीभीत विशेष गाड़ी  रहेगी निरस्त

(ट्रेन कैंसिल तारीख) टनकपुर-बरेली जं0 विशेष गाड़ी और पीलीभीत- टनकपुर- पीलीभीत विशेष गाड़ी  रहेगी निरस्त

(दु:खद वीडियो) यहां एक्सकैवेटर पर गिरा बोल्डर, ऑपरेटर की हुई मौके पर ही मौत।

(दु:खद वीडियो) यहां एक्सकैवेटर पर गिरा बोल्डर, ऑपरेटर की हुई मौके पर ही मौत।