कुमाऊं विश्वविद्यालय में हो रहे शोध और नवाचार कार्य सराहनीय हैं –  राज्यपाल। इन विषयों पर शोध करने की भी दी सलाह

राज्यपाल/कुलाधिपति लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने मंगलवार को कुमाऊं विश्वविद्यालय, नैनीताल के डीएसबी परिसर में निदेशकों और संकायाध्यक्षों से अलग-अलग वार्ता कर सभी संकायों में हो रहे अकादमिक एवं प्रशासनिक कार्यों की समीक्षा की गई।

इस दौरान सभी निदेशकों एवं संकायाध्यक्षों ने अपने-अपने संकायों में किए जा रहे शोध, नवाचारों, और अन्य शैक्षणिक गतिविधियों पर विस्तृत प्रस्तुतीकरण दिए। साथ ही उन्होंने अपने विभागों में हो रहे महत्वपूर्ण कार्यों, परियोजनाओं और भविष्य की योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश में भूजल के स्तर में लगातार गिरावट आ रही है। विश्वविद्यालय भूजल स्तर को बढ़ाने के उपाय खोजें। विश्वविद्यालय उत्तराखंड के पारंपरिक जल स्रोतों, नौलों को बचाने के भी वैज्ञानिक समाधान ढूंढे।

राज्यपाल ने कहा कि विश्वविद्यालय टूरिस्ट एवं ट्रैफिक मैनेजमेंट पर भी शोध करें और इस चुनौती हेतु अपने ठोस सुझाव दें जिससे पर्यटन और ट्रैफिक का सही से प्रबंधन किया जा सके।

राज्यपाल ने कहा कि कुमाऊं का क्षेत्र अध्यात्म, साहित्य और संस्कृति के लिए पूरे देश में अपनी एक अलग पहचान रखता है। विश्वविद्यालय यहां के अध्यात्म, साहित्य और संस्कृति एवं मानसखंड के ऐतिहासिक महत्व और भविष्य की संभावनाओं हेतु भी शोध करे।

बैठक में राज्यपाल द्वारा नवाचार और उद्यमिता को बढ़ावा देने के साथ-साथ नए विचारों और तकनीकों को अपनाने के लिए संकायाध्यक्षों को भी प्रेरित किया गया।

राज्यपाल ने कहा कि विश्वविद्यालय अधिक से अधिक राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के उत्कृष्ट शोध पत्र प्रकाशित करने चाहिए। सभी संकायाध्यक्ष को आर्थिक संसाधनों के स्रोत स्वयं खोजने चाहिए ताकि उन्हें विश्वविद्यालय पर निर्भर न रहना पड़े। आपके द्वारा केंद्रीय संस्थानों और सीएसआर की मदद से आर्थिक संसाधनों की पूर्ति के भी प्रयास किए जाएं।

राज्यपाल ने कहा कि कुमाऊं विश्वविद्यालय में हो रहे शोध और नवाचार कार्य सराहनीय हैं। उन्होंने टीम भावना से विश्वविद्यालय की कई उपलब्धियों के लिए कुलपति सहित पूरे विश्वविद्यालय प्रशासन की सराहना की। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन और संकायों के प्रयासों से ही यह संभव हो पाया है। राज्यपाल ने कहा कि हमें शिक्षा के क्षेत्र में और अधिक उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सतत प्रयासरत रहना होगा।

खबर को शेयर करें ...

Related Posts

(दीजिये शुभकामनायें) पन्त विश्वविद्यालय के इन 4 विद्यार्थियों का हुआ नामी कम्पनी में चयन, मिला ये पैकेज

पन्तनगर विश्वविद्यालय के सेवायोजन परामर्ष निदेषालय के माध्यम से मैसर्स…

खबर को शेयर करें ...

2014 में सूख गया था ज्ञान वृक्ष, वैज्ञानिक तरीके से किया पुनर्जीवित, वो भी मूल स्थान पर, यहाँ पहुंचे राज्यपाल

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने आज अल्मोड़ा के…

खबर को शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या ये आपने पढ़ा?

(दीजिये शुभकामनायें) पन्त विश्वविद्यालय के इन 4 विद्यार्थियों का हुआ नामी कम्पनी में चयन, मिला ये पैकेज

(दीजिये शुभकामनायें) पन्त विश्वविद्यालय के इन 4 विद्यार्थियों का हुआ नामी कम्पनी में चयन, मिला ये पैकेज

2014 में सूख गया था ज्ञान वृक्ष, वैज्ञानिक तरीके से किया पुनर्जीवित, वो भी मूल स्थान पर, यहाँ पहुंचे राज्यपाल

2014 में सूख गया था ज्ञान वृक्ष, वैज्ञानिक तरीके से किया पुनर्जीवित, वो भी मूल स्थान पर, यहाँ पहुंचे राज्यपाल

रील बनाने के चक्कर में अपनी और दूसरों की जान जोखिम में न डालें। देखिये विडियो …

रील बनाने के चक्कर में अपनी और दूसरों की जान जोखिम में न डालें। देखिये विडियो …

पन्त विश्वविद्यालय में निकली कुल 259 पदों पर भर्तियाँ, ऐसे करें अंतिम तारीख से पहले आवेदन

पन्त विश्वविद्यालय में निकली कुल 259 पदों पर भर्तियाँ, ऐसे करें अंतिम तारीख से पहले आवेदन

आज मिल सकती है गर्मी से राहत, छाएगी काली घटा और पड़ेगी बारिश की फुहार

आज मिल सकती है गर्मी से राहत, छाएगी काली घटा और पड़ेगी बारिश की फुहार

रीठासाहिब जा रहे श्रद्धालुओं तथा स्थानीय बारातियों में हुई थी मारपीट, अब दूसरा अभियुक्त संजय सिंह फर्त्याल उर्फ अलबेला हुआ गिरफ्तार

रीठासाहिब जा रहे श्रद्धालुओं तथा स्थानीय बारातियों में हुई थी मारपीट, अब दूसरा अभियुक्त संजय सिंह फर्त्याल उर्फ अलबेला हुआ गिरफ्तार