यहाँ लगभग 4 लाख की कीमत की गुलदार (लैपर्ड) की खाल के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार

चमोली के पुलिस अधीक्षक का अपराधियों के प्रति सख्ती का असर ये हुआ कि अब सलाखों के पीछे पहुंच रहे है तस्कर। एसओजी एवं थराली पुलिस की सतर्कता से गुलदार (लैपर्ड) की खाल के साथ 02 तस्करों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस अधीक्षक जनपद चमोली सर्वेश पंवार द्वारा समस्त थाना प्रभारियों को मादक पदार्थाे के तस्करों पर नकेल कसने के अतिरिक्त वन्य जीवों के अंगों की तस्करी करने वालों पर सर्तक दृष्टि रखते हुए अपराध को अंजाम देने वालों के विरूद्व कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए गये है। समस्त प्रभारियों द्वारा लगातार चौकिंग एवं आवश्यक कार्यवाही करते हुए संदिग्धों पर सर्तक दृष्टि रखी जा रही है।

पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में वन्य जीव जन्तुओं की तस्करी की रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में दिनांक 02 व 03.04.2024 की रात्रि को एसओजी व थाना थराली पुलिस द्वारा मुखबिर की सूचना पर चेकिंग के दौरान मींग गेधेरे के पास से अभियुक्त विक्रम सिंह उर्फ डब्बू पुत्र नेत्र सिंह निवासी ग्राम वासिना तहसील थराली उम्र 38 वर्ष व दिनेश सिंह पुत्र मेहरवान सिंह निवासी ग्राम कंसोला थाना थराली उम्र 45 वर्ष को गुलदार (लैपर्ड) की खाल के साथ गिरफ्तार किया।

पुलिस टीम द्वारा खाल की पहचान करने हेतु वन विभाग की टीम को मौके पर बुलाया गया जिसमें वन दरोगा बलवंत सिंह द्वारा जंगली जानवर की खाल की जांच कर गुलदार (लैपर्ड) की खाल होना बताया।

गिरफ्तार अभियुक्तों द्वारा पूछताछ में बताया गया कि गुलदार लगभग एक से दो वर्ष पूर्व जंगल में मरा हुआ मिला था। जिसकी हड्डियों को जंगल में ही मिट्टी में दबा दिया था और खाल को अपनी छानी में सुखाकर बेचने के लिए ले जा रहे थे। थाना थराली पुलिस द्वारा अभियुक्तों के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

नाम पता अभियुक्त-
1- विक्रम सिंह उर्फ डब्बू पुत्र नेत्र सिंह निवासी ग्राम वासिना तहसील थराली उम्र 38 वर्ष।
2- दिनेश सिंह पुत्र मेहरवान सिंह निवासी ग्राम कंसोला थाना थराली उम्र 45 वर्ष।
बरामद माल- प्रतिबंधित वन्य जीव गुलदार (लैपर्ड) की खाल जिसकी अनुमानित मूल्य 4,00,000/- रू0 लाख रूपये।

खबर को शेयर करें ...
  • Related Posts

    लालकुआँ-वाराणसी सिटी- लालकुआँ ग्रीष्मकालीन विशेष गाड़ी 29 अप्रैल से

    रेल यात्रियों की सुविधा हेतु 05055 /05056 लालकुआँ-वाराणसी सिटी-लालकुआँ ग्रीष्मकालीन…

    खबर को शेयर करें ...

    (गज़ब) मियां-बीवी दोनों मिलकर देते थे चोरी की घटनाओं को अंजाम, फेरी के बहाने करते थे रेकी

    लालकुआं क्षेत्र में चोरी/नकबजनी की घटनाओं में शामिल पति पत्नी…

    खबर को शेयर करें ...

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    क्या ये आपने पढ़ा?

    लालकुआँ-वाराणसी सिटी- लालकुआँ ग्रीष्मकालीन विशेष गाड़ी 29 अप्रैल से

    लालकुआँ-वाराणसी सिटी- लालकुआँ ग्रीष्मकालीन विशेष गाड़ी 29 अप्रैल से

    (गज़ब) मियां-बीवी दोनों मिलकर देते थे चोरी की घटनाओं को अंजाम, फेरी के बहाने करते थे रेकी

    (गज़ब) मियां-बीवी दोनों मिलकर देते थे चोरी की घटनाओं को अंजाम, फेरी के बहाने करते थे रेकी

    ईवीएम मशीनों को रखा गया स्ट्रांग रूम में, ऐसी है चाक-चौबंद सुरक्षा

    ईवीएम मशीनों को रखा गया स्ट्रांग रूम में, ऐसी है चाक-चौबंद सुरक्षा

    लालकुआं-हावड़ा ग्रीष्मकालीन विषेष गाड़ी के समय में हुआ बदलाव

    लालकुआं-हावड़ा ग्रीष्मकालीन विषेष गाड़ी के समय में हुआ बदलाव

    जैव विविधता से भरपूर उत्तराखंड में पक्षियों का एक अलग संसार बसता है- राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि)

    जैव विविधता से भरपूर उत्तराखंड में पक्षियों का एक अलग संसार बसता है- राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि)

    जंगल में लगने वाली आग पर काबू पाने के लिए राजस्व पुलिस के साथ महिला मंगल दल, युवक मंगल दल, स्वयं सहायता समूहों एवं आपदा मित्रों का भी रहेगा सहयोग

    जंगल में लगने वाली आग पर काबू पाने के लिए राजस्व पुलिस के साथ महिला मंगल दल, युवक मंगल दल, स्वयं सहायता समूहों एवं आपदा मित्रों का भी रहेगा सहयोग