ऑनलाइन फ्राॅड के हो गए हैं शिकार, घबराएँ मत तुरंत करें ये उपाय

[tta_listen_btn]

ऑनलाइन फ्रॉड एक बड़ी समस्या है जो आजकल इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को प्रभावित कर रही है। यह किसी भी प्रकार की ऑनलाइन गतिविधि है जिसमें धोखाधड़ी, जालसाजी, या अनुचित कृत्रिमता शामिल हो सकती है। इसमें विभिन्न रूप हो सकते हैं, जैसे कि:

  1. फिशिंग: इसमें धोखाधड़ी वाले ईमेल, साइट, या संदेशों का उपयोग किया जाता है ताकि उपयोगकर्ता की निजी जानकारी, जैसे कि बैंक खाता विवरण, पासवर्ड, आदि प्राप्त की जा सके।
  2. ऑनलाइन शॉपिंग फ्रॉड: अकाउंट चोरी, नकली वेबसाइटों के माध्यम से ग्राहकों की धोखाधड़ी करना, या अनापत्ति से उत्पादों की बिक्री करना ऑनलाइन शॉपिंग फ्रॉड के उदाहरण हैं।
  3. कंप्यूटर या सॉफ़्टवेयर फ्रॉड: कंप्यूटर या सॉफ़्टवेयर में उत्पन्न सुरक्षा खतरे, फेक ऐप्स, मैलवेयर, स्पाइवेयर, आदि के माध्यम से ऑनलाइन फ्रॉड किया जा सकता है।
  4. क्रिप्टोकरेंसी फ्रॉड: धोखाधड़ी के उदाहरण में आपकी क्रिप्टोवैलेट से क्रिप्टोकरेंसी चुराना, फेक ICOs, आदि शामिल हो सकते हैं।

इसलिए, लोगों को ऑनलाइन फ्रॉड के खतरों के बारे में जागरूक रहना और सावधानी बरतना बहुत महत्वपूर्ण है। यह उनकी निजी और वित्तीय सुरक्षा के लिए आवश्यक है।

ये रहा समाधान –

ऑनलाइन फ्राॅड होने पर क्या करें –

१- नजदीकी पुलिस स्‍टेशन या साइबर सैल में फ्रॉड की जल्द से जल्द शिकायत दर्ज कराकर उसकी रिसीविंग ले लें।

२- केंद्र सरकार के नेशनल साइबर क्राईम हेल्पलाईन 1930 पर या नेशनल साइबर क्राईम पोर्टल www.cybercrime.gov.in पर तुरंत शिकायत दर्ज करवाएं।

३- फ्रॉड वाले ही दिन या अगले दिन कोशिश करें कि पुलिस की रिसीविंग को लेकर अपने बैंक में जाएं। वहां फ्रॉड की एप्लिकेशन लिखें और पुलिस की रिसीविंग को संलग्न कर दें।

४- दोनों कॉपी की सॉफ्ट कॉपी को आरबीआई की इमेल आईडी crpc@rbi.org.in पर (सीसी में अपने बैंक का ईमेल आईडी डालकर) तुरंत भेज दें।

कितने दिन में मिल जाती है धोखाधड़ी की रकम-

३ से २१ दिन के भीतर आपको पैसा वापस मिल जाएगा।

किसे नहीं मिलता पैसा वापस?

जो लोग एक हफ्ते बाद बैंक और पुलिस को सूचना देते हैं उनकी रकम वापस मिलने की संभावना कम होती है। अगर किसी ने बिटकॉइन, ऑनलाइन करेंसी, पोर्न साइट या चैट रूम, ऑनलाइन गेम्‍स या सट्टा आदि में पैंसा गंवाया है तो वह पैंसा वापस नहीं मिल पाता। अगर किसी ने जानबूझकर ट्रांजेक्‍शन किया है या बैंक द्वारा सूचित करने के बाद भी ट्रांजेक्शन किया है तो पैसा वापस नहीं मिलता।

खबर को शेयर करें ...
  • Related Posts

    ये क्या… यहाँ सांसद के सामने ही भिड़ गए विधायक और डीएम! हुई जमकर बहस, देखिए वीडियो

    सांसद उधम सिंह नगर नैनीताल, अजय भट्ट की अध्यक्षता में…

    खबर को शेयर करें ...

    किच्छा में युवा प्रतिभाओं के निखार हेतु शीघ्र से शीघ्र स्टेडियम निर्माण किया जाये – बेहड़

    किच्छा विधानसभा क्षेत्र से विधायक तिलक राज बेहड़ ने आज…

    खबर को शेयर करें ...

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    क्या ये आपने पढ़ा?

    ये क्या… यहाँ सांसद के सामने ही भिड़ गए विधायक और डीएम! हुई जमकर बहस, देखिए वीडियो

    ये क्या… यहाँ सांसद के सामने ही भिड़ गए विधायक और डीएम! हुई जमकर बहस, देखिए वीडियो

    किच्छा में युवा प्रतिभाओं के निखार हेतु शीघ्र से शीघ्र स्टेडियम निर्माण किया जाये – बेहड़

    किच्छा में युवा प्रतिभाओं के निखार हेतु शीघ्र से शीघ्र स्टेडियम निर्माण किया जाये – बेहड़

    (मौसम) इन जनपदों में होगी कई दौर की तेज बारिश ?

    (मौसम) इन जनपदों में होगी कई दौर की तेज बारिश ?

    चार धाम एवं प्रमुख मन्दिरों के नाम से मिलते जुलते नाम पर समिति अथवा ट्रस्ट बनाने पर होगी कठोर कानूनी कार्रवाई

    चार धाम एवं प्रमुख मन्दिरों के नाम से मिलते जुलते नाम पर समिति अथवा ट्रस्ट बनाने पर होगी कठोर कानूनी कार्रवाई

    पन्तनगर हवाई पट्टी हेतु अधिग्रहित भूमि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के नाम होगी निःशुल्क हस्तांतरित। कैबिनेट की बैठक में लिए गए ये महत्वपूर्ण निर्णय।

    पन्तनगर हवाई पट्टी हेतु अधिग्रहित भूमि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के नाम होगी निःशुल्क हस्तांतरित। कैबिनेट की  बैठक में लिए गए ये महत्वपूर्ण निर्णय।

    पंतनगर एयरपोर्ट की देश के प्रमुख शहरों से कनेक्टिविटी बढ़ाने की दिशा में कार्य किये जाएं- मुख्यमंत्री धामी

    पंतनगर एयरपोर्ट की देश के प्रमुख शहरों से कनेक्टिविटी बढ़ाने की दिशा में कार्य किये जाएं- मुख्यमंत्री धामी