आदि कैलाश यात्रा का शुभारंभ, 50 तीर्थयात्रियों का दल हुआ रवाना, 7 दिन तक चलेगी यात्रा


उत्तराखंड सरकार की पहल पर पहली बार इस यात्रा की शुरूआत टनकपुर से की जा रही है।
टनकपुर से सड़क यात्रा से श्रद्धालु चंपावत, पिथौरागढ़ होते हुए आदि कैलाश की यात्रा कर चौकोड़ी से पाताल भुवनेश्वर होते हुए काठगोदाम से लौटेगी

टनकपुर से रवाना होने वाले 50 यात्रियों के दल में 30 पुरूष तथा 20 महिलाएं हैं। चार यात्री उत्तर प्रदेश, तीन कोलकाता तथा शेष राजस्थान के हैं।


इस अवसर पर यात्रा को रवाना करने से पूर्व अपने संबोधन में मंडलायुक्त ने कहा कि पहली बार टनकपुर से सड़क के रास्ते शुरू हो रही इस यात्रा को लेकर तीर्थयात्रियों के साथ स्थानीय लोगों में भी उत्साह है। इससे पूर्व यह यात्रा सड़क मार्ग से काठगोदाम से ही होती थी।


आयुक्त कुमाऊ श्री रावत ने सभी यात्रियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि कैलाश पर्वत अपने में आलौकिक तो हैं ही साथ ही  कैलाशपर्वतयात्रामार्ग भी अपने में बेहद खूबसूरत है। यहां #हिमालय के विहंगम व मन को चिर शांति प्रदान करने वाले मनमोहक दृश्य हैं, जो मन को एक अलग ही अनुभूति प्रदान करते हैं। इस यात्रा में मानसखंडमंदिरमाला अंतर्गत सभी धार्मिक स्थल तथा पर्यटन स्थल के दर्शन होंगे। उन्होंने सभी श्रद्धालुओं से कहा की यात्रा के दौरान हिमालय के विहंगम दृश्यों का आनंद लें।


उन्होंने कहा की यह यात्रा कुमाऊँमंडल की बेहद महत्वपूर्ण यात्रा है यह यात्रा पहले से और सुगम हो गई है तथा सुविधाएं भी बड़ गई है। उन्होंने कहा की कुमाऊंमंडलविकासनिगम द्वारा यह यात्रा कराई जा रही है उनके द्वारा यात्रियों को अधिक से अधिक सुविधाएं प्रदान की गई है, साथ ही उन्होंने कहा कि कुमाऊँ मंडल विकास निगम द्वारा जो भी मानक रखे गए हैं यात्रा के दौरान उनका पालन अवश्य करें।


सभी यात्रियों का धारचूला में स्वास्थ्य_परीक्षण भी किया जाएगा। आयुक्त कुमाऊं ने कहा कि आने वाले समय में यहां पर्यटन की और अधिक सुविधाएं बढ़ रही हैं। राफ्टिंग व एंग्लिंग के अतिरिक्त यहां पर्यटन के बेहतरीन डेस्टिनेशन है। उन्होंने कहा जितने भी यात्री इस यात्रा में शामिल हुए हैं वह सभी यात्री अपने में इस कुमाऊं की इस विश्व प्रसिद्ध यात्रा के ब्रांड एंबेसडर है।

इस अवसर पर  जिलाधिकारीनवनीतपांडे ने यात्रा में शामिल हुए सभी श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हिमालय के दर्शन करना अपने आप में अलग व अलौकिक अनुभूति प्रदान करता है। उन्होंने इस अवसर पर श्रद्धालुओं के साथ अपने यात्रा की अनुभव साझा किया तथा यात्रियों को यात्रा के दौरान सावधानी बरतने की भी अपील की।
इस दौरान प्रबंधकनिदेशक कुमाऊँमंडल विकासनिगम संदीप तिवारी ने कुमाऊँ मंडल विकास निगम द्वारा यात्रा में दी जा रही सभी सुविधाओं आदि के संबंध में श्रद्धालुओं को जानकारी दी। उन्होंने कहा की यह यात्रा 7 दिन की होगी। उन्होंने कहा यह यात्रा टनकपुर से पहली बार प्रारंभ हो रही है। जो मानस खंड मंदिर माला अंतर्गत धार्मिक तीर्थ स्थलों व पर्यटन स्थलों के दर्शन कराकर काठगोदाम के मार्ग से लौटेगी।


इस अवसर पर आयुक्त कुमाऊं मंडल द्वारा परिसर में एक पौधा भी रोपा गया, साथ ही स्कूली बच्चों द्वारा छोलिया नृत्य प्रस्तुत कर यात्रियों का पारंपरिक रूप से भव्य स्वागत किया गया। यात्रा में देश के अलग-अलग राज्यों के कुल 50 श्रद्धालु शामिल हुए।


जिसमें उच्चाधिकारी भी शामिल है। जिसमें राजस्थान के अपर जिलाधिकारी उम्मेद सिंह, एडीजी दीपक पराशर, रघुवीर शर्मा, रामकिशन सहित अन्य श्रद्धालु शामिल हुए। साथ ही यात्रा दल में शामिल राजस्थान के बाबा कैलाश नाथ 1998 से लगातार यात्रा कर रहे हैं।

खबर को शेयर करें ...
  • Related Posts

    (दीजिये शुभकामनायें) पन्त विश्वविद्यालय के इन 4 विद्यार्थियों का हुआ नामी कम्पनी में चयन, मिला ये पैकेज

    पन्तनगर विश्वविद्यालय के सेवायोजन परामर्ष निदेषालय के माध्यम से मैसर्स…

    खबर को शेयर करें ...

    2014 में सूख गया था ज्ञान वृक्ष, वैज्ञानिक तरीके से किया पुनर्जीवित, वो भी मूल स्थान पर, यहाँ पहुंचे राज्यपाल

    राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने आज अल्मोड़ा के…

    खबर को शेयर करें ...

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    क्या ये आपने पढ़ा?

    (दीजिये शुभकामनायें) पन्त विश्वविद्यालय के इन 4 विद्यार्थियों का हुआ नामी कम्पनी में चयन, मिला ये पैकेज

    (दीजिये शुभकामनायें) पन्त विश्वविद्यालय के इन 4 विद्यार्थियों का हुआ नामी कम्पनी में चयन, मिला ये पैकेज

    2014 में सूख गया था ज्ञान वृक्ष, वैज्ञानिक तरीके से किया पुनर्जीवित, वो भी मूल स्थान पर, यहाँ पहुंचे राज्यपाल

    2014 में सूख गया था ज्ञान वृक्ष, वैज्ञानिक तरीके से किया पुनर्जीवित, वो भी मूल स्थान पर, यहाँ पहुंचे राज्यपाल

    रील बनाने के चक्कर में अपनी और दूसरों की जान जोखिम में न डालें। देखिये विडियो …

    रील बनाने के चक्कर में अपनी और दूसरों की जान जोखिम में न डालें। देखिये विडियो …

    पन्त विश्वविद्यालय में निकली कुल 259 पदों पर भर्तियाँ, ऐसे करें अंतिम तारीख से पहले आवेदन

    पन्त विश्वविद्यालय में निकली कुल 259 पदों पर भर्तियाँ, ऐसे करें अंतिम तारीख से पहले आवेदन

    आज मिल सकती है गर्मी से राहत, छाएगी काली घटा और पड़ेगी बारिश की फुहार

    आज मिल सकती है गर्मी से राहत, छाएगी काली घटा और पड़ेगी बारिश की फुहार

    रीठासाहिब जा रहे श्रद्धालुओं तथा स्थानीय बारातियों में हुई थी मारपीट, अब दूसरा अभियुक्त संजय सिंह फर्त्याल उर्फ अलबेला हुआ गिरफ्तार

    रीठासाहिब जा रहे श्रद्धालुओं तथा स्थानीय बारातियों में हुई थी मारपीट, अब दूसरा अभियुक्त संजय सिंह फर्त्याल उर्फ अलबेला हुआ गिरफ्तार